ग्रीन टी पीने के सही तरीके और सही समय जानें, तो होंगे यह फायदे

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

ग्रीन टी के फायदे

सेहत के लिए ग्रीन-टी के फायदे – Green tea ke fayde

ग्रीन टी के फायदे – ग्रीन टी खास तौर डायबिटीज के पेशेंट के लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होती है। अगर आपका पेट बहार है और पेट मे काफी चर्बी है। तो ग्रीन टी चर्बी को घटाने में भी बहुत ज्यादा मदद करती है इसलिए ग्रीन टी जरूर पिएं। इसे पीने से आपकी पेट की बीमारी दूर होती है जिससे आपका शरीर स्वस्थ रहता है। यह भी जाने की ग्रीन टी के पीने का सही तरीका और सही समय क्या है ताकि आपको इसके ज्यादा से ज्यादा लाभ मिल पाएं।

वजन कम करने के लिए

यदि आप वजन कम करने के लिए डाइटिंग नहीं करना चाहते है तो ग्रीन टी आपके लिए एक अच्छा ऑप्शन है क्योकि ग्रीन टी पर की गयी ताज़ा रीसर्च के अनुसार अगर एक कप खाली पेट ग्रीन टी आप रोज पी जाये तो वजन बहुत कम समय में ही घटाया जा सकता है। यहाँ तक की एक हफ्ते में डेढ़ किलो वजन आप आसानी से कम कर सकते है।

हृदय रोग के लिए

ग्रीन टी हमारे शरीर में केलोस्ट्रोल के लेवल को कम करती है और हृदय रोग को रोकने में मदद करती है। यहाँ तक की दिल का दौरा पड़ने के बाद यह हृदय की कोशिकाओं की मृत्यु को रोकती है और हृदय की कोशिकाओं के फिर से बनने की स्पीड को बढ़ाती है।

ग्रीन टी के फायदे डायबिटीज के लिए

ग्रीन टी डायबिटीज के रोगी के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद होती है। जब डयबिटीज के रोगी जैसे ही कुछ खाते या पीते है। तो उनका शुगर लेवल बढ़ जाता है लेकिन ग्रीन टी पीने से शरीर में शुगर का लेवल कम हो जाता है इसलिए ग्रीन टी शरीर में शुगर के लेवल को संतुलित बनाये रखने में मदद करती है।

मोटापा कम करने के लिए

मोटापे के लिए ग्रीन टी बहुत ही फायदेमंद साबित होती है। कई लोग इसका लगातार सेवन करते है ताकि वह अपना बढ़ता हुआ मोटापा को कुछ हद तक कम कर सके। यह वजन कम करने के लिए एक कारगर घरेलु उपाय है। खाना खाने के बाद यदि आप ग्रीन टी पीते है तो यह आपके वजन को बढ़ने से रोकती है और इसमें मौजूद पोषक तत्व आपका वजन कम करने में अहम भूमिका निभाते है।

पैरो की बदबू दूर करने के लिए

ग्रीन टी पैरो की बदबू भी दूर करने के लिए इस्तमाल की जाती है। बहुत से लोगो को पैरो और मोजो से बदबू आने की तकलीफ रहती है लेकिन ग्रीन टी के इस्तमाल से आप पैरो के बदबू आसानी से दूर कर सकते है। इसके लिए आप इस्तमाल की हुई ग्रीन टी की पतियों को पानी की बाल्टी में डाल दें और उसमे अपने पैरो को 10 मिनट तक डुबो कर रखे। इस तरह ग्रीन टी आपके पैरो की बदबू को दूर करती है।

हड्डियों को मजबूत करने के लिए

ग्रीन टी में हाई फ्लोराइड होता है। यह हड्डियों को मजबूत रखने में मदद करता है। यदि आप रोज ग्रीन टी पीते है। तो यह आपकी बोन डेंसिटी को बनाये रखने में मदद करता है इसलिए बढ़ती उम्र के लोगो के लिए तो ग्रीन टी बहुत ही अच्छी मानी जाती है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता के लिए

ग्रीन टी में पाए जाने वाले पॉलीफेनोल्स और फ्लवोनोइड्स इन्फेक्शन्स के खिलाफ लड़ाई में शरीर की मदद करते है और इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाते है जिससे ओवरॉल हेल्थ अच्छी बनी रहती है।

त्वचा के लिए ग्रीन टी के फायदे

ग्रीन टी हमारी त्वचा के लिए भी बहुत अच्छी मानी जाती है। इनमे एंटीएजेंट प्रॉपर्टी होती है और एंटीऑक्सीडेंट होते है। साथ ही साथ यह हमारे त्वचा को खूबसूरत और चमकदार बनाने में मदद करती है और कैसे ग्रीन टी को त्वचा के लिए इस्तमाल करते है यह भी में आपको बताती हूँ।

चेहरे को ग्लोइंग बनाने के लिए – आपको सबसे पहले ग्रीन टी में निम्बू ,शहद और दही को मिलाकर इसको अपने चेहरे पर लगा ले इससे आपकी स्किन में ग्लो आएगा।

डार्क सर्किल से छुटकारा दिलाने के लिए

ग्रीन टी डार्क सर्किल से भी राहत दिलाती है। यह हमारे आँखों के काले धब्बे भी ग्रीन टी के रोजाना इस्तमाल से दूर कर देती है। इसके लिए आपको ग्रीन टी बनाने के बाद बची हुई टी में नीँबू मिला कर अपनी डार्क सर्किल में अच्छे से लगा दे और रोजाना इस्तमाल करे। इससे आपके डार्क सर्कल तेज़ी से गायब होने लगेंगे।

दाँतो के लिये भी फायदेमंद

ग्रीन टी में कैफीन होता है। जो दाँतो में लगे कीड़े को मारते है और बैक्टीरिया को कम करते है। जिससे दाँतो में किसी तरह की दर्द या कीड़ा लगने की बीमारी नहीं होती।

ग्रीन टी पीने के सही तरीके और सही समय क्या है

ग्रीन टी के फायदे

आज कल ग्रीन टी एक पीने वाला लोकप्रिय पदार्थ बनता जा रहा है ऐसा इसलिए क्योकि लोग इससे होने वाले स्वास्थ लाभ होने के बारे में जागरूक हो गए है। ऐसे लोग जो मोटापा कम करना चाहते है और पेट पर जमे फैट को कम करना चाहते है, अच्छी त्वचा और पाचन में सुधार लाना चाहते है, ऊर्जा वान और स्वस्थ बने रहना चाहते है। वो सभी ग्रीन टी का सेवन करते है परंतु इसका अर्थ यह नहीं की हम एक के बाद दूसरा कप ग्रीन टी पीते रहे। हमें यह बात ध्यान में रखनी चाहिए की गलत समय ग्रीन टी पीने से दुष्परिणाम भी हो सकते है क्योकि ग्रीन टी में कैफीन और टेनिन दोनों होते है। जो गैस्ट्रिक जूस को पतला कर देते है और पेट को प्रभावित करते है। इसके कारण जी मचलाना ,गैस्ट्रिक दर्द ,पेट में एसिडिटी को बढ़ावा मिलता है। यदि ग्रीन टी को सही समय और सही मात्रा में लिया जाये तभी हमें इसके अधिकतम लाभ मिलते है।

1 – ग्रीन टी को खाली पेट न पीये – ग्रीन टी पीने से हमारा शरीर अंदर से स्वच्छ होता है, लेकिन ग्रीन टी को खाली पेट नहीं पीना चाहिए क्योकि इसमें कैफीन होता है। जो हमारे गैस्ट्रिक जूस को पतला कर देता है। हमारे पेट और स्प्लीन (आमाशय के पास छोटा अंग जिस पर रक्त का शुद्ध होना निर्भर है) को प्रभावित करता है।

2 –ग्रीन टी पीने का सही समय क्या है – अगर आपको अच्छे परिणाम चाहिए तो आपको खाना खाने के आधा घंटा पहले या खाना खाने के एक घंटे बाद ग्रीन टी पीना चाहिए।

3 –दूध या चीनी मिलाये – ग्रीन टी में एंटी ऑक्सीडेंट और थिओनीन(thionine) होते है। जो स्वास्थ के लिए अच्छे होते है परन्तु जब दूध में उपस्थित प्रोटीन, शुगर में उपस्थित कैलोरीज ,ग्रीन टी में उपस्थित फ्लावोनोइड्स से मिलते है। तो नकारात्मक प्रतिक्रिया होती है। जिससे शरीर को ग्रीन टी से मिलने वाले लाभ नहीं मिल पाते।

4 – शहद के साथ पीये – ग्रीन टी में उपस्थित कैफीन तथा शहद में उपस्थित विटामिन न्यूरोन्स को पुनर जीवित कर देते है तथा शरीर में उपस्थित फैट को बर्न करते है। शहद कैलोरीज को कम करने में मदद करता है इसलिए खाना खाने के बाद शहद को ग्रीन टी के साथ पीये।

5 – खाना खाने के बाद ग्रीन टी को तुरंत बाद न पीये – ग्रीन टी में उपस्थित कैफीन पाचन को प्रभावित करता है और पोषक तत्व को शरीर में अवशोशत होने से रोकता है।

6 – दिन में सिर्फ दो या तीन कप ही ग्रीन टी पीना चाहिए – ग्रीन टी में एंटी ऑक्सीडेंट और फ्लावोनोइड्स प्रचुर मात्रा में होते है। इसका सेवन अधिक मात्रा में करेंगे तो शरीर में विषैले तत्व की मात्रा बढ़ती है तथा आपका लिवर प्रभावित हो सकता है।

अगर आप लोग ग्रीन टी खरीदना चाहते है तो आप ग्रीन टी को ऑनलाइन भी खरीद सकते है।


Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

One comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *